Trending Now

देव दीवाली में 11 हज़ार दियों से जगमगा उठा छठ घाट

Rama Posted on: 2023-11-27 14:09:00 Viewer: 307 Comments: 0 Country: India City: Singrauli

देव दीवाली में 11 हज़ार दियों से जगमगा उठा छठ घाट Chhath Ghat lit up with 11 thousand lamps during Dev Diwali


रंगोली प्रतियोगिता से भी छात्रों ने दिया पर्यावरण संरक्षण का संदेश

रविवार को मोरवा स्थित मढौली छठ घाट पर शिव की भूमि काशी और राम की जन्मभूमि अयोध्या नगरी का समागम देखने को मिला। यहां काशी की तर्ज पर गंगा आरती भी हुई और अयोध्या की तर्ज पर दीए जलाकर श्री राम के नारे भी लगे। कार्तिक पूर्णिमा की शाम देव दीपावली के उपलक्ष पर मोरवा स्थित मढौली छठ घाट में 11 हज़ार दिए से पूरा घाट जगमगा उठा। पिछले वर्ष से शुरू हुए इस चलन में वार्ड क्रमांक 9 के पार्षद शेखर सिंह व ट्रक एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेश सिंह के द्वारा देव दीपावली पर इस प्रकार का आयोजन कर युवाओं को भारतीय संस्कृति और धर्म के प्रति जागरूक करने को लेकर प्रयासरत दिखे। इस आयोजन को लेकर मोरवा क्षेत्र के लोगों में खासा उत्साह देखा गया। आयोजन समिति द्वारा दीप प्रज्वलन कार्यक्रम के साथ रंगोली प्रतियोगिता एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, जिसमें मोरवा के विद्यालयों समेत आम लोगों ने भी शिरकत की। रविवार दोपहर बाद आदर्श गंगा स्कूल, सरस्वती ज्ञान मंदिर स्कूल, क्राइस्ट ज्योति स्कूल समेत अन्य स्कूलों के छात्र-छात्राएं घाट पर पहुंचकर रंगोली प्रतियोगिता में जुट गए थे। इनके साथ ही अन्य लोगों ने भी रंगोली प्रतियोगिता में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया। इनके द्वारा छठ घाट पर घंटों की मेहनत से रंगोली तैयार की गई। इनके द्वारा तैयार की गई रंगोली सिंगरौली के बढ़ते प्रदूषण के साथ पृथ्वी की जलवायु में बदलाव समेत कई मुद्दे शामिल थे। इनके माध्यम से छात्र छात्राओं ने लोगों को जागरूक करने का कार्य किया। मोरवा में इस प्रकार के पहले आयोजन के गवाह मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रदेश सचिव अमित द्विवेदी समेत क्षेत्र के गणमान्य नागरिक एस पी सिंह, आदर्श गंगा स्कूल के प्रचार आर बी सिंह, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नरेंद्र चंद्र सिंह, ईशु तिवारी समेत आम जनता रही।

ओबरा से आए गायको ने समां बांधा
देव दीपावली पर हो रहे इस आयोजन में ओबरा से आए गायको ने भक्ति गीतों के साथ शानदार प्रस्तुति दी, पूरे समय उनके विभिन्न भक्ति गीतों से लोग मंत्र मुक्त होते रहे।

आतिशबाजी से जगमगा उठा आसमान
इस अवसर को खास बनाने के लिए आयोजकों द्वारा भव्य आतिशबाजी का आयोजन किया गया था। काफी देर तक छठ घाट के आसमान पर आतिशबाजी होती रही, जिसे लोग देखकर उत्साहित दिखे।

काशी के तर्ज पर हुई गंगा आरती
इस अवसर पर मढौली छठ घाट पर बेदी बनाकर गंगा आरती का आयोजन किया गया था। जहां विभिन्न पुजारियों द्वारा विधि विधान से पूजा अर्चना कर गंगा आरती की गई। इस दृश्य को जिसने भी देखा उसे शिव की नगरी काशी स्थित गंगा नदी की आरती की याद आ गई।

Also Read

  

Leave Your Comment!









Recent Comments!

No comments found...!


Singrauli Mirror AppSingrauli Mirror AppInstall