Trending Now

PM Vishwakarma Yojna: लाखों कारीगरों के लिए पीएम विश्वकर्मा योजना आशा की किरण : नरेन्द्र मोदी

Rama Posted on: 2023-09-18 12:01:00 Viewer: 237 Comments: 0 Country: India City: Delhi

PM Vishwakarma Yojna: लाखों कारीगरों के लिए पीएम विश्वकर्मा योजना आशा की किरण : नरेन्द्र मोदी PM Vishwakarma Yojana: PM Vishwakarma Yojana a ray of hope for lakhs of artisans: Narendra Modi

 

PM Vishwakarma Yojna: पीएम नरेन्द्र मोदी ने रविवार,17 सितंबर को द्वारका में स्थित इंडिया इंटरनेशनल कन्वेंशन एंड एक्सपो सेंटर (IICC) के पहले चरण का लोकार्पण किया। यशोभूमि को तकरीबन 5,400 करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया गया है। इस केंद्र में विश्‍व-स्‍तरीय बैठक, सम्मेलन और प्रदर्शनियों की मेजबानी की जा सकती है। यह दुनिया के सबसे बड़े सम्‍मेलन और प्रदर्शनी सुविधा स्‍थलों में से एक है। पीएम ने कल अपने जन्मदिवस और विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों के लिए ‘पीएम विश्वकर्मा योजना‘ भी शुरू की। पीएम मोदी ने कहा कि लाखों कारीगरों और उनके परिवारों के लिए पीएम विश्वकर्मा योजना आशा की किरण बनकर आ रही है। इसके अलावा पीएम विश्वकर्मा लोगो, टैगलाइन और पोर्टल लॉन्च किया। उन्होंने इस अवसर पर एक कस्टमाइज्ड स्टाम्प शीट, एक टूल किट, ई–बुकलेट और वीडियो भी जारी किया हैं । साथ ही पीएम ने 18 लाभार्थियों को विश्वकर्मा प्रमाण पत्र वितरित किए।

प्रधानमंत्री ने आयोजन स्थल पर पहुंचने के बाद, प्रदर्शनी ‘गुरु-शिष्य परंपरा’ और ‘नई प्रौद्योगिकी’ का अवलोकन किया। उन्होंने यशोभूमि के 3डी मॉडल का भी निरीक्षण किया। इससे पूर्व, पीएम मोदी ने द्वारका सेक्टर-21 से एक नए मेट्रो स्टेशन ‘यशोभूमि द्वारका सेक्टर-25’ तक दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो एक्सप्रेस लाइन के विस्तार का उद्घाटन किया।

उपस्थित जनसमूह को किया संबोधित
पीएम मोदी ने इस मौके पर उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए, विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर अपनी शुभकामनाएं दीं और कहा कि यह पारंपरिक कारीगरों और शिल्पकारों को समर्पित है। उन्होंने देश भर के लाखों विश्वकर्मा से जुड़ने का अवसर मिलने पर प्रसन्नता व्यक्त की। उन्होंने इस अवसर पर लगाई गई प्रदर्शनी का दौरा करने और कारीगरों और शिल्पकारों के साथ बातचीत करने के शानदार अनुभव पर भी प्रकाश डाला। पीएम ने नागरिकों से इस अवसर पर आने का भी आग्रह किया। पीएम मोदी ने कहा कि लाखों कारीगरों और उनके परिवारों के लिए पीएम विश्वकर्मा योजना आशा की किरण बनकर आ रही है।

देश के रोजमर्रा के जीवन में विश्वकर्मा के योगदान और महत्व को रेखांकित किया
अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने देश के रोजमर्रा के जीवन में विश्वकर्मा के योगदान और महत्व को रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि विश्वकर्मा हमेशा समाज में महत्वपूर्ण बने रहेंगे, चाहे प्रौद्योगिकी में कितनी भी प्रगति क्यों न हुई हो। यह समय की मांग है कि विश्वकर्मा को मान्यता और सहायता मिले।
पीएम मोदी ने कहा, “सरकार विश्वकर्मा समुदाय के लोगों के सम्मान को बढ़ाने, क्षमताओं को बढ़ाने और उनकी समृद्धि बढ़ाने के लिए एक भागीदार के रूप में आगे आई है।” कारीगरों और शिल्पकारों के 18 फोकस क्षेत्रों पर प्रकाश डालते हुए, प्रधानमंत्री ने बताया कि पीएम विश्वकर्मा योजना में बढ़ई, लोहार, सुनार, मूर्तिकार, कुम्हार, मोची, दर्जी, राजमिस्त्री, हेयरड्रेसर, धोबी आदि को शामिल किया गया है और इस पर 13,000 करोड़ रुपये खर्च होंगे।

प्रशिक्षण के दौरान विश्वकर्मा मित्रों को मिलेंगे 500 रुपये प्रतिदिन
प्रधानमंत्री ने कहा, “इस बदलते समय में, विश्वकर्मा मित्रों के लिए प्रशिक्षण, प्रौद्योगिकी और उपकरण महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षण के दौरान विश्वकर्मा मित्रों को 500 रुपये प्रतिदिन भत्ता दिया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि आधुनिक टूलकिट के लिए 15 हजार रुपये का टूलकिट वाउचर भी दिया जाएगा और सरकार उत्पादों की ब्रांडिंग, पैकेजिंग और मार्केटिंग में मदद करेगी। उन्होंने कहा कि टूलकिट केवल जीएसटी पंजीकृत दुकानों से ही खरीदे जाएं और ये उपकरण मेड इन इंडिया होने चाहिए।

प्रधानमंत्री ने संबोधन के दौरान केंद्र सरकार की एक उत्पाद योजना और पीएम स्वनिधि योजना का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि दुनिया ने जी-20 शिल्प बाजार में प्रौद्योगिकी और परंपरा के संगम का परिणाम देखा है। पीएम ने आगे कहा कि भारत मंडपम और यशोभूमि केंद्र अब दिल्ली को सम्मेलन पर्यटन का सबसे बड़ा केंद्र बनाने जा रहे हैं। इससे लाखों युवाओं को रोजगार मिलने की संभावना है। पीएम मोदी ने नागरिकों से आगे बढ़ते रहने, नए लक्ष्य बनाने, उनके लिए प्रयास करने और 2047 तक भारत को एक विकसित देश में बदलने का आग्रह किया है ।

Also Read

  







Leave Your Comment!









Recent Comments!

No comments found...!


Singrauli Mirror AppSingrauli Mirror AppInstall