Trending Now

Ntpc Vindhyanchal: फ्लाईऐश की पाइप लाइन फूटी, घरों में घुसा राख का मलबा

Rama Posted on: 2023-10-01 14:34:00 Viewer: 196 Comments: 0 Country: India City: Singrauli

Ntpc Vindhyanchal: फ्लाईऐश की पाइप लाइन फूटी, घरों में घुसा राख का मलबा Ntpc Vindhyanchal: Fly ash pipeline burst, ash debris entered houses


स्थानीय रहवासी हो रहे परेशान, लोगों में कंपनी के प्रति बढ़ा आक्राेश

Ntpc Vindhyanchal: एनटीपीसी विंध्याचल की फ्लाईऐश पाइप लाइन फूटने से बलियरी बस्ती के घरों में राख का मलबा घुस गया है। जिससे दहशत के साये में रहवासियों की रात गुजर रही है। कई एकड़ की फसल भी प्रभावित हुई है। स्थानीय लोगों ने बताया कि चार दिनों में पाइप लाइन दूसरी बार फूटा है लेकिन मौके पर स्थिति का जायजा लेने एनटीपीसी के जिम्मेदार अधिकारी नहीं पहुंचे हैं। बल्कि राखड़ की सप्लाई बंद कर मामले को शांत कर दिया है। जिससे रहवासियों में कंपनी के प्रति आक्रोश व्याप्त है।

कहा से आ रहा राखड़
बता दें कि एनटीपीसी विंध्याचल ने पाइप लाइन के जरिए राखड़ को बलियरी स्थित फ्लाईऐश डैम में गिरा रहा है। इस बीच पडऩे वाले गांवों के रहवासियों को हर पल खतरा बना रहता है। क्योंकि एनटीपीसी की राखड़ पाइप अक्सर ही फूट जाती है। जिससे स्थानीय रहवासियों को रतजगा करना पड़ता है। शुक्रवार की रात बलियरी के पास राखड़ की पाइप फूट जाने से आसपास के खेतों में राख का मलबा जम गया है। वहीं आधा दर्जन घरों में राखडय़ुक्त पानी भरने से रहवासी कंपनी के जिम्मेदार अधिकारियों को कोसते रहे। हैरत की बात यह है कि राखड़ पाइप फूटने की जानकारी अधिकारियों को है। इसके बावजूद मौके पर स्थिति का जायजा लेना लापरवाह अधिकारियों ने उचित नहीं समझा है। कंपनी के इस राखड़ा की पाइप लाईन फूट जाने से वहां से गुहर रही यह पाईप से लोगों के घरों में फ्लाई ऐश का राखड़युक्त पानी घरों में घुस जाने से लोगों में आक्राेश व्याप्त है। स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया कि राखड़ पाइड़ लाईन फूट जाने की जानकारी अधिकारियों को हैं लेकिन आज तक कोई यहां नहीं पहुंचा जिस कारण यहां के निवासियों को इससे परेशानी सामना करना पड़ रहा है।

सप्लाई बंद, सुधार नहीं कराया
राखड़ पाइप फूटने पर एनटीपीसी के अधिकारियों ने उसमें सुधार नहीं कराया है। बल्कि राखड़ की सप्लाई बंद कराकर खानापूर्ति कर लेते हैं। पीडि़त रहवासियों ने बताया कि लापरवाह अधिकारियों का यह रवैया पिछले एक सप्ताह से चल रहा है। प्रभावित लोगों ने कई बार शिकायत किया लेकिन समस्या को जिम्मेदार अधिकारी नजरअंदाज कर रहे हैं। जिससे यहां के लोगों को काफी परेसानियों को सामना करना पड़ रहा है। स्थानीय लोगों ने कहा कि कंपनी प्रबंधन को देखना चाहिए की ये सब कैसे हुआ और कौन प्रभावित हो रहा है। यहां के रहवासियों की क्या स्थिति है। लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है राखड की इस बाढ़ से लोगों को बुरा हाल है।

क्या बोले, पीडि़त रहवासी
अचानक से राख का मलबा जब घरों में भर गया तब देखा तो राखड़ पाइप फूटी हुई थी। छोटे-छोटे बच्चों को लेकर रतजगा करना पड़ा है। समस्या से राहत नहीं मिल रही है। देर रात राखड़ पाइप फूट गई। धान की फसल तबाह हो गई है। खेतों में राख का मलबा जम गया है, जिससे फसल चौपट हो गई। एनटीपीसी अधिकारियों को इस संबंध मेें सूचना दी गई लेकिन मौके पर देखने नहीं आए। राखड़ पाइप फूटने के बाद घरों मेंं राखडय़ुक्त पानी भर गया। रातभर घरों से पानी निकालने में लगे रहे। स्थानीय लोगों ने कहा कि कंपनी द्वारा ऐसी स्थित निर्मित होने पर कोई ठोक कदम न उठाना ये चिंतन का विषय है उन्होंने कहा कि कंपनी अगर चाहे तो यह काम उनको सही करने के लिए कुछ समय का है लेकिन इस विषय पर शांत रहना यह चिंतनीय है।

Also Read

  

Leave Your Comment!









Recent Comments!

No comments found...!


Singrauli Mirror AppSingrauli Mirror AppInstall