Trending Now

Fraud News: नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी, मामला दर्ज

Rama Posted on: 2023-09-19 12:22:00 Viewer: 282 Comments: 0 Country: India City: Singrauli

Fraud News: नौकरी दिलाने के नाम पर लाखों की ठगी, मामला दर्ज Fraud News: Cheating of lakhs in the name of providing job, case registered


6 माह बाद भी नहीं हुई गिरफ्तारी, सवालों के घेर में प्रशासन

Singrauli Fraud News: नौकरी के नाम पर जिस तहर लोगों से ठगी की जा रही उससे यह साफ हो रहा है इन ठगों के हौसले कितने बुलंंद है। ऐसा ही एक मामला सामने आया है जहां एक युवक को अपनी ठगी का शिकार बनाते हुए उससे लगभग पौने दो लाख रूपये ऐठे गये हैं। ओ बी कंपनी में नौकरी लगाने के नाम पर जिले के करीब 4,5 युवकों से लाखों रुपए की ठगी कर ली गई। घटना को सुजान तिवारी व अन्य साथियों ने अंजाम दिया है। जिसकी शिकायत पहले विन्ध्यनगर थाने में हुई थी, शिकायत के बाद पुलिस ने सुजान तिवारी व अन्य पर धारा 420, 34 के तहत अपराध दर्ज किया है।

जाने पूरा मामला
फरियादी पवन कुमार शाह पिता ज्योतिष लाल निवासी गोरा थाना साई जिला सिरौली (म.प्र.) का थाना में उपस्थित होकर एक लिखित आवेदन प्रस्तुत किया कि सुजान तिवारी निवासी नवजीवन बिहार सेक्टर नं. 01 एवं उसके साथी कमला तिवारी, शशिकान्त पाठक गौरव पाठक के द्वारा नौकरी दिलाने का झासा देकर 1.62,000/- रूपये लेने तथा नौकरी न दिलाने का आवेदन पत्र प्रस्तुत किया आवेदन पत्र के अवलोकन से प्रथम दृष्याअपराध 420, 34 भा. द वि. का पाये जाने से पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया। फरियादी पवन कुमार शाह ने बताया कि बेरोजगार व्यक्ति हूँ सुजान तिवारी निवासी रेहडा पो. बटाई यामा जिला सिगरौली पता सेक्टर नं. 01 नवनवीन बिहार में किराये का मकान लेकर परिवार सहित रहता है और अपनी ऑफिस सण्डे मार्केट के सामने काम्बी सेवा संस्थान के नाम से संचालित किया है जिसका प्रचलित नाम कवि तिवारी है जिसके सबसे बड़े भाई कमला तिवारी से पिछले 4 माह पूर्व विन्ध्यनगर में ही मुझे प्रार्थी से मुलाकात हुई थी जिन्होंने कहा की मेरा बेटा भाई सुजान तिवारी है जो तुम्हारी नौकरी लगवा सकता है और उसने अपने छोटे भाई सुजान तिवारी के पास जाकर नवजीवन बिहार स्थित कमरे में मेरी मुलाकात करवाया जो सुजन तिवारी ने नौकरी दिलाये जाने की बात कही और बोला की सिक्योरिटी के रूप में कुछ पैसे जमा करना होगा तो मैंने कहा की कितना तब उसने कहा की 2,50,000/- दो लाख पचास हजार रुपये।

प्रशासनिक और राजनितिक पकड़ बता कर किया ठगी
फरियादी पवन कुमार शाह ने बताया कि उस समय सुजान तिवारी के साथ में दो लोग उनके सहयोगी गौरव पाठक तथा शशिकान्त पाठक भी थे तथा इनके द्वारा भी कहा गया था की सुजान तिवारी की पकड़ अच्छी है और मुझे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सर के पास ले गया और मुझे बताया सर से बात हो गयी है और यही नौकरी लगवा सकते है। जिससे मैंने विश्वास करके 1.62,000/- रूपये कई बार में सुजान तिवारी के खाते में ट्रान्सफर किया था और नगद 10,000/- रूपये सुजान तिवारी के कमरे पर जाकर दिया था उसके बाद में सुजान तिवारी अपनी पकड़ नेता, मंत्री, विधायक, कलेक्टर, एनसीएएल महाप्रबंधक, कंपनी के महाप्रबंधक से होना बताकर मुझे अपने विश्वास में रखे रहा परन्तु वह आज तक मेरी नौकरी लगवाया और न ही मेरा पैसा वापस कर रहा है. जब भी उससे पैसा या नौकरी की बात करता हूँ। तो 10 दिन, 15 दिन रुकने की बात कहता है और इसी तरह से मुझे घुमा रहा है।

नहीं मिली नौकरी और न ही वापस कर रहा पैसा
अभी कुछ माह पूर्व उसने कहा की आपको कलेक्ट्रेट में कम्प्यूटर आपरेटर के पद पर रखवा दूंगा वहा पर बाली है वहां भी नहीं रखवाया इसके कुछ दिन के बाद कहने लगा की जगह फुल हो गया है और अब आपको आपके नजदीक एपीएमडीसी कोल ब्लाक सुनियरी में रखवा दूंगा चिन्ता मत करो परन्तु आज तक वहां भी नहीं रखवाया में अपना पैसा वापस मांग रहा हूँ तो वह तीनों अब विवाद कर रहे है, बोलते है की तुमको अधिक जल्दी है तो जाओ जो करना हो करलो पैसा नौकरी कुछ नहीं मिलेगा, जिस कारण अब मैं परेशान हो गया हूँ। अतः श्रीमान जी के समक्ष आवेदन पत्र प्रस्तुत कर विनय है कि प्रार्थी को नौकरी दिलाये जाने का झासा देकर पैसा ऐठने वालों व धोखाधड़ी करने वालों पर कानूनी कार्यवाही करते हुये प्रार्थी का उक्त संपूर्ण रकम वापस दिलवाने की कृपा की जाय।

पुलिस का लोगो से अपील
अतरिक्त पुलिस अधीक्षक ने सिंगरौली जिले के युवाओं से अनुरोध किया है इस तरह को घटनाओं में न फंसे। ऐसे लोग नौकरी का लालच देकर आप का पैसा हड़प लेते है और इनकी कोई झमता नहीं होती है। नौकरी लगवाने की नहीं तो ये लोगों खुद ही नौकरी कर लेते। सभी लोगों से अनुरोध है इस तरह के मामले में न फंसे और अगर कोई आप के साथ इस तरह की कृत करता है तो पुलिस को इसकी सुचना दे और घबराये नहीं।

इनका कहना है।
यहाँ के बेरोजगार युवकों के साथ नौकरी के नाम पर कुछ लोग ठगी करते रहते है। इसी क्रम में अधिकारियों के पास सिफारिश आती रहती है और सुजान तिवारी नाम का व्यक्ति जो अपने आप को कवि बताता है वो मेरे पास आया और बोला सर इसको कही लगवा दो। फिर इस सम्बन्ध में पवन मुझे मिला और और बताया सर सुजान तिवारी ने मुझसे पैसा ले लिया है और नौकरी भी नहीं लगवा रहा है जिस पर मैंने मामले को तुरंत संज्ञान में लेते हुए एफआईआर करवाया और मामला पंजीबद्ध हुआ पुलिस उसकी तलाश कर रही है जल्द ही उसकी गिरफ्तारी हो जाएगी।
शिव कुमार वर्मा
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सिंगरौली

Also Read

  







Leave Your Comment!









Recent Comments!

No comments found...!


Singrauli Mirror AppSingrauli Mirror AppInstall